Zerodha MF: ज़ेरोधा म्यूचुअल फंड का पहला NFO लॉन्च, 3 नवंबर तक कर सकते हैं निवेश, जाने प्रक्रिया

Zerodha Mutual Fund: ज़ेरोधा म्यूचुअल फंड का एनएफओ 3 नवंबर 2023 तक खुला रहेगा.

Zerodha NFO: ज़ेरोधा म्यूचुअल फंड ने अपना पहला फंड – ज़ेरोधा निफ्टी लार्ज मिड कैप 250 इंडेक्स फंड (Zerodha Nifty LargeMidcap 250 Index Fund) और ज़ेरोधा ईएलएसएस टैक्स सेवर निफ्टी लार्ज मिड कैप 250 इंडेक्स फंड (Zerodha ELSS Tax Saver Nifty LargeMidcap 250 Index Fund) को लांच किया है. यह एनएफओ 20 अक्टूबर 2023 से खुला है. निवेशक 3 नवंबर 2023 तक इस फंड में निवेश कर सकते हैं. यह फंड निवेशक को एक साथ दो फंड में इन्वेस्ट करने का मौका दे रहा है. ज़ेरोधा AMC के दोनों फंड में ओपन-एंडेड, पैसिव, इंडेक्स इक्विटी म्यूचुअल फंड स्कीम है.

इतने रुपये से कर सकते हैं निवेश

दोनों नए फंड में निवेश की न्यूनतम राशि क्रमशः 100 रुपये और 500 रुपये से शुरू है. ज़ेरोधा निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स फंड के लिए न्यूनतम निवेश की राशि 100 रुपये है. और ज़ेरोधा टैक्स सेवर (ईएलएसएस) निफ्टी लार्जकैप 250 इंडेक्स फंड के लिए 500 रुपये है. ज़ेरोधा फंड हाउस के ये स्कीम सब्सक्रिप्शन 3 नवंबर को बंद हो जाएंगे.

ज़ेरोधा फंड हाउस भारत की सबसे बड़ी स्टॉक ब्रोकिंग फर्म ज़ेरोधा ब्रोकिंग लिमिटेड और एक इंपॉर्टेंट पोर्टफोलियो निवेश मंच, स्मॉलकेस टेक्नोलॉजीस प्राइवेट लिमिटेड के बीच एक जॉइंट वेंचर है. ज़ेरोधा फंड हाउस (ज़ेडएफएच) भारत का एकमात्र पैसिव-ओन्ली एएमसी है जो सरल, पारदर्शी, किफायती म्यूचुअल फंड का निर्माण करेगा.

ज़ेडएफएच प्रत्येक निवेशक के पोर्टफोलियो के लिए बिल्डिंग ब्लॉक्स प्रदान करने के लिए प्रत्येक टचप्वाइंट पर टेक्नोलॉजी का लाभ ले पाएंगे।

एनएफओ की खासियत

इंडेक्स फंड एक ओपन-एंडेड स्कीम है जो निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स को रेप्लिकेट करता है. और ईएलएसएस एक ओपन-एंडेड पैसिव इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्किम है जिसमें 3 साल की स्टेट्यूटरी लॉक-इन पीरियड और निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स को रेप्लिकेट करने वाली टैक्स बेनिफिट है.

ज़ेरोधा निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स फंड और ज़ेरोधा ईएलएसएस टैक्स सेवर निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स फंड को निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स टीआरआई (टोटल रिटर्न्स इंडेक्स) के खिलाफ बेंचमार्क किया जाएगा.

योजनाएं एक पैसिव इन्वेस्टमेंट स्ट्रैटिजी अपनाएंगी और निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स में शेयरों के भार के अनुपात में शेयरों में निवेश करने का प्रयास करेंगी. ईएलएसएस स्किम आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 (सी) के तहत कर लाभ प्रदान करती है.

इस अवसर पर ज़ेरोधा फंड हाउस के सीईओ विशाल जैन ने कहा, “हम अपने पहले एनएफओ के लॉन्च की घोषणा करते हुए बहुत उत्साहित हैं. हमारा मानना है कि सरल उत्पादों और एक्सपोज़र के माध्यम से अधिक भारतीयों को कैपिटल मार्केट्स तक पहुंचने में मदद करने का एक बड़ा अवसर है और हम यही करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

यह एनएफओ स्थिरता और विकास के अच्छे मिश्रण के साथ एक सरल इक्विटी उत्पाद प्रदान करने का एक प्रयास है, जिसका उपयोग निवेशकों द्वारा शीर्ष 250 कंपनियों में निवेश करने के लिए एक एकल निवेश समाधान के रूप में किया जा सकता है, जो भारतीय अर्थव्यवस्था के दीर्घकालिक वृद्धि से लाभान्वित होने के लिए तैयार हैं.”

Leave a Comment